होम जीवन शैली रक्षाबंधन पर बन रहा है ये शुभ योग, ये है राखी बांधने...

रक्षाबंधन पर बन रहा है ये शुभ योग, ये है राखी बांधने का शुभ मुहुर्त

285
1
शेयर करें

ब्यूरो, एनडीभारत: हिंदू पंचांग के अनुसार श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को रक्षाबंधन का त्योहार मनाया जाता है। इस बार रक्षाबंधन के दिन बहुत ही अच्छे ग्रह नक्षत्रों का योग बन रहा है क्योंकि इस वर्ष रक्षा बंधन के त्योहार पर शोभन योग बन रहा है और ऐसे में राखी बांधने के लिए 12 घंटे का मुहूर्त है।

भाई और बहन के पवित्र प्यार का पर्व रक्षाबंधन इस बार 22 अगस्त रविवार को है। रक्षाबंधन के दिन इस बार अशुभ कही जाने वाली शनिदेव की बहन भद्रा दिनभर नहीं रहेगी, इससे दिन भर राखी बांधी जा सकती है। रक्षाबंधन का त्योहार हमेशा भद्रा और ग्रहण से मुक्त होने पर ही मनाया जाता है क्योंकि शास्त्रों में भद्रा रहित काल में ही राखी बांधने की परंपरा है। भद्रा रहित काल में राखी बांधने से सौभाग्य में बढ़ोत्तरी होती है। धार्मिक मान्यता है कि यमराज की बहन यमुना ने उनकी कलाई में राखी बांधी थी जिसके बदले यमराज ने यमुना को अमरता का वरदान दिया था।

रक्षाबंधन मुहूर्त 2021
शुभ समय – 22 अगस्त, रविवार सुबह 05:50 बजे से शाम 06:03 बजे तक
रक्षा बंधन के लिए दोपहर का उत्तम समय – 22 अगस्त को 01:44 बजे से 04:23 बजे तक
अभिजीत मुहूर्त – दोपहर 12:04 से 12:58 मिनट तक

इस प्रकार बांधे राखी
राखी बांधते समय भाई को पूर्व या उत्तर दिशा की ओर मुख करके बैठना चाहिए। सर्वप्रथम बहन को अपनी अनामिका अंगुली से भाई के मस्तक पर रोली का तिलक लगाकर अक्षत लगाने चाहिए। अक्षत अखंड शुभता को प्रदर्शित करते हैं। इसके बाद भाई की कलाई पर राखी बांधते हुए उसके मंगल की कामना करनी चाहिए।

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें